सरल वास्तु सुझाव

 सरल वास्तु सुझाव

1. घर में सफाई के लिए पोंछा नमक के पानी का लगाएं एवं अंदर से बाहर की तरफ ही पोंछा लगाने की प्रक्रिया को अपनाएं 2. रसोईघर में कुछ भी बनाते समय मुहँ पूर्व की तरफ ही होना चाहिए 3. स्वस्थ व्यक्ति को पूर्व या उत्तर की तरफ ही मुहँ करके कुछ भी खाना चाहिए 4. अस्वस्थ या बीमार व्यक्ति को उत्तर की तरफ ही मुहँ करके ही कुछ भी खाना चाहिए विशेषकर औषधि 5. पढ़ाई एवं परीक्षा की तैयारी के लिए मुहँ सदैव पूर्व की तरफ ही होना चाहिए 6. पूरक परीक्षा या पुनः परीक्षा के लिए सदैव उत्तर की तरफ ही मुहँ करके ही तैयारी करें 7. स्वस्थ व्यक्ति को सदैव पूर्व या दक्षिण की तरफ ही सिर करके सोना चाहिए 8. बीमार व्यक्ति का सिर सदैव दक्षिण की तरफ ही होना चाहिए और मुहँ उत्तर की तरफ 9. स्नान करते समय मुहँ सदैव पूर्व या उत्तर की तरफ ही होना चाहिए 10. आलमारी या लाकर को दक्षिण की दिवार के साथ रखें अर्थात उसका दरवाजा उत्तर की तरफ ही खुलना चाहिए 11. ईशान कोण में मंदिर बनाकर लोग खुश हो जाते हैं जबकि अधिकांशतः (99% तक) घरों में पूजा स्थान या मंदिर की स्थिति ठीक नहीं रहती है इस विषय में अविलम्भ किसी ज्ञानी एवं अनुभवी ज्योतिषाचार्य और वास्तुकार से ही परामर्श प्राप्त करें ---------------------- # जीवन में वास्तु के महत्त्व को समय रहते समझें और उसको सम्मान दें क्योंकि जीवन में कर्म के अतिरिक्त केवल वास्तु ही है जिससे सुखद स्थिति की संभावनाओं को और अधिक बढ़ाया जा सकता है # इस सम्बन्ध में किसी भी प्रकार की भ्रम या दुविधा की स्थिति में यदि आप समय रहते किसी शिक्षित, ज्ञानी, अनुभवी एवं विश्वसनीय ज्योतिषाचार्य एवं वास्तुकार से परामर्श प्राप्त कर उसको चरितार्थ कर लेंगें तो लाभ में ही रहेंगें # मेरी तरफ से उपरोक्त सुझाव सभी के लिए हैं लेकिन इसको मानना या चरितार्थ करने की किसी को कोई बाध्यता नहीं है 🙏🌹🌹🙏 अग्रिम शुभकामनायें ...! सुभाष वर्मा ज्योतिषाचार्य
www.AstroShakti.in

Comments

Popular posts from this blog

कुछ उपयोगी सुझाव

स्वयं सिद्ध मुहूर्त (शुभ दिवस)

जीवन की शब्दावली